अर्थशास्त्र के कुछ महत्वपूर्ण शब्दावली | SOME IMPORTANT TERMINOLOGY OF ECONOMICS

अर्थशास्त्र को समझने के लिए यदि हम उसके कुछ महत्वपूर्ण शब्दों का अध्ययन कर ले तो अर्थशास्त्र को समझने में बहुत सुलभ हो जाता है |

अर्थशास्त्र
अर्थशास्त्र

राजकोषीय प्रोत्साहन | FISCAL STIMULUS

घरेलू मांग को बढ़ाने के लिए उसे प्रोत्साहित करना तथा उसे कैसे बढ़ाया जाए इन उपायों को बताना राजकोषीय प्रोत्साहन के अंतर्गत आता है|

अर्थशास्त्र में मंदी का मतलब | RECESSION

मंदी का मतलब जब दो तिमाही में घरेलू उत्पाद में गिरावट होती है उसे मंदी कहते हैं दूसरे शब्दों में कहें तो जब दो से अधिक तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद नकारात्मक होता है तो मंदी का दौर कहलाता है|

वित्तीय समावेशन क्या है ? FINANCIAL INCLUSION

वित्तीय समावेशन का अर्थ यह है कि कम आय वाले लोगों तथा समाज के वंचित लोगों तक ऋण इत्यादि पहुंच सके जिससे वित्तीय क्षेत्र में लोगों की भागीदारी अधिक से अधिक हो सके और वह बिना किसी भेदभाव के वित्तीय सेवा उपलब्ध कराई जा सके| जनधन योजना के अंतर्गत सरकार ने वित्तीय समावेशन का कार्यक्रम चलाया है|

समावेशी विकास | INCLUSIVE GROWTH

समावेशी विकास का अर्थ है कि लोगों को विकास के समान अवसर प्रदान करना और शिक्षा और कौशल के लिए लोगों को बढ़ावा देना जिससे उनके बीच समानता बनी रहे अर्थात अवसरों की समानता और विकास को बढ़ावा देना|

विनिवेश | DISINVESTMENT

साधारण शब्दों में समझें तो विनिवेश प्रक्रिया है जिसके तहत सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों की सरकारी इक्विटी को बेचा जाता है|

दूसरे विकासशील देशों की तुलना में भारत में सार्वजनिक क्षेत्र में सुधारों के लिए अधिक सतर्कता अपनाई है|

विनिवेश की शुरुआत 1991 से हुई है जिसके मुख्यतः दो प्रकार हैं

  1. सांकेतिक विनिवेश
  2. सामरिक विनिवेश

विनिवेश की वर्तमान नीति को समझे तो सरकार द्वारा बजट 2021 में विनिवेश की नीति से सार्वजनिक उद्यमों में 50 फ़ीसदी या अधिक की हिस्सेदारी दी जा सकती है|

खुली एवं बंद अर्थव्यवस्था | OPEN AND CLOSE ECONOMY

खुली अर्थव्यवस्था :- इस अर्थव्यवस्था के अंतर्गत दूसरे देशों के व्यापारिक संबंध होते हैं तथा आयात निर्यात दोनों ही होता है जिस पर अपने नियमानुसार एक देश दूसरे देश कि आयात और निर्यात वस्तुओं पर कर लगाता है| खुली अर्थव्यवस्था निगमों को उधार लेने की अनुमति देती है|

बंद अर्थव्यवस्था :- इस अर्थव्यवस्था के अंतर्गत विदेशों से आयात और निर्यात नहीं होता है| वस्तुओं का उत्पादन स्थानीय स्तर पर होता है|

भुगतान संतुलन | BALANCE OF PAYMENT

एक निश्चित समय में दिए गए भुगतान को भुगतान संतुलन कहते हैं| इसके अंतर्गत भुगतान संतुलन अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जिससे भुगतान के प्रवाह पर निगरानी रखी जाती है|

Leave a Comment