भारत में स्वास्थ्य की स्थिति Best स्वरूप क्या है? 2021

  • Save

स्वास्थ्य

आज के परिपेक्ष में जब देश कोरोना कि इस भयंकर बीमारी से जूझकर निकल चुका है| जिसमें इन सुविधाओं पर एक प्रश्न चिन्ह लग चुका है| भारत ही नहीं अपितु पूरा विश्व की स्वास्थ्य सुविधाओं का आकलन करें| तो विकसित देश जिनकी व्यवस्था का विश्व में अग्रणी स्थान आता है| इसके बावजूद भी वहां स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा सी गई है| आइए हम भारत के परिपेक्ष में स्वास्थ्य की स्थिति का आकलन करें!

स्वास्थ्य
  • Save
स्वास्थ्य

विश्व में भारत की स्वास्थ्य की स्थिति क्या है

– विश्व चिकित्सा स्थिति में भारत की रैंकिंग देखे तो हम 145वे स्थान पर हैं|

-WHO के अनुसार:- देखे तो आधुनिक चिकित्सा में चिकित्सकों एवं जनसंख्या का अनुपात 1:1000 होना चाहिए|

परंतु इसका अनुपात 1:1100 है| दूसरी तरफ अगर हम नर्सों का अनुपात देखे तो 1:500 होना चाहिए लेकिन वह 1:3000 है|

जिस प्रकार करो ना महामारी ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है इसके ध्यान में रखते हुए|

भारतीय आयुष विज्ञान अनुसंधान परिषद की वर्ष 2017 की रिपोर्ट बताती है|

भारत में 10 से 13% बच्चे,किशोर मानसिकस्वास्थ्य से जूझ रहे हैं|

अवसाद और खराब मानसिक स्वास्थ्य चिंता का बड़ा कारण है”

WHO

हम देखें तो आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन के अनुसार देश में प्रति 1000 लोगों पर 0.53 अस्पताल में बिस्तर हैं| जहां चीन में यह आंकड़ा 4.31 बिस्तर का है|

इसके अलावा भारत में प्रत्येक 1457 लोगों पर एक चिकित्सक है|

जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानकों के अनुसार प्रति 1000 लोगों पर एक चिकित्सक होना चाहिए|

देश में अभी 6 लाख चिकित्सक और 20 लाख चिकित्सक परिचारिका की कमी है|

भारत में स्वास्थ्य के लिए उठाए गए कदम

जिस तरह करो ना महामारी से भारत ने अपने आप को उससे निकल पाया है | तो प्रमुख कारण हमारी नीतियां है|

जिसमें सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं जैसे मिशन इंद्रधनुष, शिशु स्वास्थ्य में जहां बच्चों का ध्यान रखा जा रहा है|

इसके साथ साथ मातृ तथा परिवार नियोजन की भी योजना चलाई जा रही हैं|

राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम में जहां साथ ही शिक्षा कार्यक्रम चलाया जा रहा है|

तो वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन इन सभी का निरीक्षण कर रहा है|

घर में अगर हम देखें तो बच्चों और व्यक्तियों का ध्यान रखा गया है वही दिव्यांगों के लिए राष्ट्रीय नेत्रहीन ता नियंत्रण कार्यक्रम चलाया जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ बुजुर्गों की देखभाल के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम (एनपीएचसीई) चलाया जा रहा है|

निष्कर्ष

भारत में चलाई जा रही इतनी स्वास्थ्य सेवाओं के बावजूद हमारी व्यवस्था इतनी लचर क्यों हो यह एक गंभीर मुद्दा भी है या यह भी हो सकता है कि हम अपने इन सुविधाओं के प्रति जागरूक ना हो इसलिए कहते हैं कि :-

” पहले रखेंगे अपने शरीर का ध्यान,

फिर तभी कर सकेंगे सारा काम”

5 thoughts on “भारत में स्वास्थ्य की स्थिति Best स्वरूप क्या है? 2021”

  1. This design is incredible! You definitely know how to keep a reader
    entertained. Between your wit and your videos, I was
    almost moved to start my own blog (well, almost…HaHa!) Fantastic job.
    I really enjoyed what you had to say, and more than that, how you presented it.

    Too cool!

    Reply

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap